hero-img 
पंडित राघव शर्मा

   पंडित राघव शर्मा कालसर्प दोष पूजा मंगल दोष पूजा, हरसिधि मंदिर में, उज्जैन उज्जैन में पंडित श्रेणी में शीर्ष खिलाड़ी है। यह निम्नलिखित श्रेणियों में शीर्ष सेवा प्रदान करने के लिए जाने जाते है: ज्योतिषी, पंडित, पूजा के लिए पंडित, वास्तु शास्त्र सलाहकार, नदी ज्योतिषी, शादी के लिए पंडित, पंडित के लिए पंडित, वैदिक ज्योतिषी। 

 महामृत्युंजय जाप, रुद्राभिषेक, नवग्रह जाप, कालसर्प दोष शांति, वास्तु पूजा, भातपूजा, ग्रह शांती, विवाह, प्राण प्रतिष्ठा यज्ञ, गोपाल सहस्त्रनम पाठ, नवचंडी पाठ, अर्क विवाह और कुंभ विवाह.

Pujan

image
 महामृत्यंजय जाप

   मंत्र का अर्थ त्रयंबकम = त्रि-नेत्रों वाला (कर्मकारक) यजामहे = हम पूजते हैं, सम्मान करते हैं, हमारे श्रद्देय सुगंधिम= मीठी महक वाला, सुगंधित (कर्मकारक) पुष्टि = एक सुपोषित स्थिति,फलने-फूलने वाली, समृद्ध जीवन की परिपूर्णता वर्धनम = वह जो पोषण करता है, शक्ति देता है, (स्वास्थ्य, धन, सुख में)

image
 शनि शांति दोष पूजा

शनि दोष के निवारण हेतु पूजन की अनेक विधि हैं। सबसे उत्तम विधि वैदिक मंत्रों द्वारा किया जाने वाला विधान है। शनि दोष की शांति के लिए शनि ग्रह को उनके मंत्रों द्वारा शांत किया जाता है।

image
काल सर्प योग पूजा

कालसर्प एक ऐसा योग है जो जातक के पूर्व जन्म के किसी जघन्य अपराध के दंड या शाप के फलस्वरूप उसकी जन्मकुंडली में परिलक्षित होता है। व्यावहारिक रूप से पीड़ित व्यक्ति आर्थिक व शारीरिक रूप से परेशान तो होता ही है, मुख्य रूप से उसे संतान संबंधी कष्ट होता है। या तो उसे संतान होती ही नहीं, या होती है तो वह बहुत ही दुर्बल व रोगी होती है। उसकी रोजी-रोटी का जुगाड़ भी बड़ी मुश्किल से हो पाता है। धनाढय घर में पैदा होने के बावजूद किसी न किसी वजह से उसे अप्रत्याशित रूप से आर्थिक क्षति होती रहती है। तरह तरह के रोग भी उसे परेशान किये रहते हैं

Visitor Count: 5027